विद्याभारती e पाठशाला

Lesson 19 सतत एवं समग्र मूल्यांकन

Lesson 19 सतत एवं समग्र मूल्यांकन
1- सतत एवं समग्र मूल्यांकन के क्षेत्र
मूल्यांकन के 3 क्षेत्र निर्धारित किए गए हैं-
(1) शैक्षिक क्षेत्र का मूल्यांकन ।
(2) सह शैक्षिक क्षेत्र का मूल्यांकन ।
(3) व्यक्तिगत-सामाजिक गुणों का मूल्यांकन

2-शैक्षिक तकनीकि की आधुनिक विधियाँ
शिक्षा तकनीकि:-
इसका विषय शिक्षण से जुड़ा हैं । इसके अन्तर्गत शिक्षक को उन सभी नवीनतम् शिक्षण विधियों का प्रयोग करते हुए शिक्षण करना है जिससे विषय का प्रतिपादन सरल एवं सुगम हो सके। किसी भी कार्य को सफलतापूर्वक समपन्न करने के लिए निम्न चरणों से आगे बढ़ना होता है।

Lesson 19 सतत एवं समग्र मूल्यांकन
2-शैक्षिक तकनीकि की आधुनिक विधियाँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *