विद्याभारती e पाठशाला

Lesson 4 दैनिक जीवन में विज्ञान

Lesson 4 दैनिक जीवन में विज्ञान
1- दैनिक जीवन में विज्ञान
वर्तमान युग को यदि ‘विज्ञान का युग’ कहा जाए तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी । आज विज्ञान मनुष्य-जीवन के प्रत्येक पहलू में समाहित हो कर उसे संचालित कर रहा है । विज्ञान-रहित जीवन की तो आज कल्पना भी नहीं की जा सकती। मनुष्य ने विज्ञान के बल पर अनेक प्रकार की उपलब्धियां प्राप्त की हैं । विज्ञान ने उसके दैनिक जीवन-क्रम को सम्पूर्ण रूप से रूपांतरित कर दिया है । वर्तमान समय में उपभोक्ता सामग्रियों का उत्पादन बड़े पैमाने पर हो रहा है । रेडियो, सिनेमा, कैसेट, दूरदर्शन, वीडियो और अन्य उपभोक्ता सामग्रियां सामान्य जनता द्वारा व्यापक पैमाने पर उपभोग में लाई जा रही हैं।
सूचना एवं तकनीकी क्षेत्र में विज्ञान के कारण एक क्रांति आ गई है। विश्व के किसी भी कोने में रखी सूचना उंगली के एक इशारे से प्राप्त की जा सकती है। विश्व के किसी भी भाग में घटित घटना की सूचना संचार के आधुनिकतम उपकरणों (टेलीफोन, टेलीफैक्स, ई-मेल, इत्यादि) के माध्यम से कुछ ही समय में सम्पूर्ण विश्व में फैल जाती है । द्रुतगामी रेलों, बसों, वायुयानों आदि के माध्यम से दुनिया के किसी भी कोने में कुछ घंटों के अंतराल पर पहुंचा जा सकता है । विज्ञान ने विश्व को ‘वसुधैव कुटुंबकम‘ अर्थात् सम्पूर्ण विश्व को एक परिवार में बदलकर रख दिया है । आज पहले की अपेक्षा प्रत्येक मनुष्य व देश एक-दूसरे के अधिक निकट हैं।

2- जाने ऐसा क्यों -गर्मियों के मौसम में कुत्ते जीभ बाहर क्‍यों निकाल लेते हैं
3- विज्ञान प्रयोग-एक सरल डीसी मोटर बनाना

Lesson 4 दैनिक जीवन में विज्ञान
जाने ऐसा क्यों- 4
विज्ञान प्रयोग- 4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *