विद्याभारती e पाठशाला

गणित शिक्षण -10 वैदिक गणित भाग -04

विद्याभारती E पाठशाला
गणित शिक्षण -10
वैदिक गणित भाग -04
…………………………….
(एकाधिकेन पूर्वेण + अन्त्ययोर्दशकेऽपि से) गुणा और वर्ग
अन्त्ययोर्दशकेऽपि के सहायता से संख्याओं का वर्ग और गुणा करना.

एकाधिकेन पूर्वेण से वर्ग: इस सूत्र के प्रयोग से 5 से अंत होने वाली संख्याओं का वर्ग किया जा सकता है.

जैसे: 35, 45, 65, 135, 125, 115 आदि का वर्ग.

35 का वर्ग

35 में ‘पूर्व’ अंक है 3 और 3 का एकाधिक होता है 4. इसलिए 35^2 =3×425 =1225

125 का वर्ग

125 में ‘पूर्व’ अंक है 12 और 12 का एकाधिक होता है 13. इसलिए 125^2 =12×1325 =15625 =15625

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *